प्रधानमंत्री मोदी की 2024 की जीत में तुरुप का पत्ता साबित होंगी ये 5 योजनाएं

प्रधानमंत्री मोदी की 2024 की जीत में तुरुप का पत्ता साबित होंगी ये 5 योजनाएं

Share This Post With Friends

Last updated on March 8th, 2024 at 04:54 pm

देश में जल्द ही लोकसभा चुनाव 2024 की घोषणा होने वाली है और प्रधानमंत्री मोदी ने 400 से ज्यादा सीटें जीतने की हुंकार भर दी है। क्या सच में इस बार बीजेपी इस लक्ष्य को प्राप्त करेगी? अगर यह सच होता है तो इसके पीछे मोदी की गारंटी वाली ये पांच योजनाएं मुख्य रूप से तुरूप का पत्ता सावित होने जा रहीं हैं। आइये जानते हैं ये कौनसी पांच योजनाएं हैं।

1- मुफ्त अनाज योजना

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Group Join Now
मुफ्त अनाज योजना

कोरोना काल में लोगों के सामने रोजी-रोटी का जब संकट आया तब प्रधानमंत्री मोदी ने वर्ष 2020 में अप्रेल से जून तक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत गरीबों को प्रति व्यक्ति 5 किलोग्राम गेहूं या चावल मुफ्त देने की घोषणा की। इस योजना को 30 जून 2023 से 31 दिसम्बर 2023 तक घोषित किया गया था, लेकिन अब यह योजना 2028 तक जारी रहेगी। यह अनाज सब्सिडी से 3 रूपये प्रति किलो चावल, 2 रूपये प्रति किलो गेहूं और 1 रूपये प्रति किलो मोटा अनाज मिलता है। इस योजना का लाभ पाने वाले लोग सरकार के इस काम से खुश हैं और निश्चित ही इसका लाभ चुनावों में मिलेगा। इस योजना का बजट 2 लाख करोड़ प्रति वर्ष है।

2-किसान सम्मान निधि योजना

किसान सम्मान निधि योजना

प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना का प्रारम्भ 24 फरवरी 2019 को शुरू किया गया । इस योजना के तहत किसानों के खाते में सीधे सहायता राशि भेजी जाती है इस योजना के तहत पात्र किसानों को प्रति वर्ष 6000 रूपये की आर्थिक सहायता दी जाती है। यह राशि तीन किस्तों में 2000/क़िस्त के रूप में सीधे किसान के खाते में भेजी जाती है। अब तक इस योजना की 10 क़िस्त जारी हो चुकी हैं और 16वीं क़िस्त 28 फरवरी 2024 को किसानों के खाते में भेजी जाएगी। ये योजना किसानों का समर्थन पाने में काफी कारगर सिद्ध हुई है। ये योजना भी मोदी के 400 के आंकड़े को पाने में मददगार साबित होगी।

3-हर घर मुफ्त शौचालय योजना

हर घर मुफ्त शौचालय योजना

प्रधानमंत्री मोदी ने 2 अक्टूबर 2014 को SBM योजना यानी स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण योजना का आरम्भ किया गया था और इसका उद्देश्य सभी घरों में सरकार द्वारा मुफ्त शौचालय बनाने का उद्देश्य रखा गया और 2 अक्टूबर 2019 को महात्मा गाँधी जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि देने का उद्देश्य रखा। इस योजना के तहत अब तक देशभर में 10.9 करोड़ घरों में शौचालय बनाये जा चुके हैं और इस योजना को 2024 तक के लिए बढ़ा दिया गया है। इस योजना के तहत लाभार्थी को 12000 रूपये का अनुदान सरकार देती है। यह योजना ग्रामीण क्षेत्रों में काफी लोकप्रिय है और चुनावों में अवश्य ही सरकार को लाभ पहुंचाएगी।

4- प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना

इस योजना का शुभारम्भ केंद्र सरकार द्वारा 17 जून 20215 को किया गया था और इसका उद्देश्य 2 करोड़ पक्के घर बनाने का है । यह योजना प्रधानमंत्री आवास योजना PMY के तहत शुरू की गयी थी। यह योजना अब 31 दिसम्बर 2024 तक जारी रहेगी। इस योजना के तहत 122.69 घरों को मंजूरी मिली है। इस योजना का लाभ EWS 3 लाख रूपये वार्षिक आय 30 वर्गमीटर कार्पेट एरिया , निम्न आय LIG, 6 लाख रूपये वार्षिक आयऔर 60 वर्ग मीटर कार्पेट एरिया, MIG-माध्यम वर्ग 12 लाख वार्षिक आय और 160 वर्गमीटर कार्पेट एरिया, और MIG-माध्यम वर्ग II- 12-18 लाख वार्षिक आय और 200 मीटर से काम वर्गमीटर के घर के 12 लाख तक का सस्ता लोन देती है। यह योजना शहरी माध्यम वर्ग को अवश्य प्रभावित करेगी।

5- प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना

प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना

हर घर तक गैस सिलेंडर पहुँचाने और रसोई को धुंआ मुक्त करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री मोदी ने 1 मई 2016 को ‘प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना’ का प्रारम्भ किया। यह योजना शहरी और ग्रामीण BPL- परिवारों के लिए है जिसके तहत गैस कनेक्शन लेने पर 1600 रूपये की सब्सिडी सहायता दी जाती है। वर्ष में 14.2 किलोग्राम के 3 सिलेंडर सरकार मुफ्त देती है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत अब तक 7.4 करोड़ मुफ्त एलपीजी कनेक्शन दिए जा चुके हैं। सरकार का लक्ष्य 75 लाख नए कनेक्शन उपलब्ध कराने का है और यह योजना 2026 तक चलेगी।


Share This Post With Friends

Leave a Comment

Discover more from 𝓗𝓲𝓼𝓽𝓸𝓻𝔂 𝓘𝓷 𝓗𝓲𝓷𝓭𝓲

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading