|

Indian Air Force Day: Why Indian Air Force Day is celebrated on 8 Octobe? भारतीय वायु सेना दिवस, जानिए इससे जुड़ी खास बातें

Indian Air Force Day: Why Indian Air Force Day is celebrated on 8 Octobe? भारतीय वायु सेना दिवस, जानिए इससे जुड़ी खास बातें

Indian Air Force Day: Why Indian Air Force Day is celebrated on 8 Octobe? भारतीय वायु सेना दिवस, जानिए इससे जुड़ी खास बातें
IMAGE CREDIT-AAJTAK

भारतीय वायु सेना दिवस 2022: भारतीय वायुसेना का 90वां स्थापना दिवस आज मनाया जा रहा है। भारतीय वायु सेना के इतिहास में पहली बार चंडीगढ़ में वायु सेना दिवस परेड का आयोजन किया जा रहा है। इससे पहले गाजियाबाद के हिंडन एयर फ़ोर्स स्टेशन पर वायुसेना दिवस परेड का आयोजन किया जा चुका है.Indian Air Force Day: Why Indian Air Force Day is celebrated on 8 Octobe? भारतीय वायु सेना दिवस, जानिए इससे जुड़ी खास बातें

क्या आप जानते हैं भारतीय वायुसेना से जुड़ी ये बातें

ऐसे में आपको भारतीय वायुसेना के स्थापना दिवस से जुड़ी कुछ खास बातें जरूर जाननी चाहिए। क्या आप जानते हैं कि भारतीय वायु सेना दिवस 8 अक्टूबर को ही क्यों मनाया जाता है?

भारतीय वायु सेना की स्थापना 1932 . में हुई थी

आपको जानना जरुरी है कि भारतीय वायु सेना की स्थापना ब्रिटिशकालीन भारत में 1932 में हुई थी। स्पष्ट है कि उस समय देश पर अंग्रेजों का शासन था। ये भी जानना रोचक होगा कि उस समय भारतीय वायु सेना को विश्वभर में रॉयल इंडियन एयर फ़ोर्स के नाम से जाना जाता था। परन्तु भारत की स्वतंत्रता के पश्चात् रॉयल शब्द को इससे हटा दिया गया। जिसके बाद इसे भारतीय वायु सेना के नाम से जाना जाने लगा। अब आप जान चुके हैं कि 8 अक्टूबर को वायु सेना दिवस मनाया जाता है।

क्या आप जानते हैं दुनिया की चौथी सबसे बड़ी वायु सेना है भारत के पास

भारतीय वायु सेना दुनिया की चौथी सबसे बड़ी वायु सेना है। उत्तर प्रदेश में स्थित हिंडन वायु सेना स्टेशन (गाजियाबाद) एशिया में सबसे बड़ा वायु सेना स्टेशन है।

वायु सेना ने कई युद्धों में दिखाई है अपनी ताकत

भारतीय वायु सेना अपनी स्थापना के समय से ही कई युद्धों में शामिल रही है। भारतीय वायु सेना ने चार बार पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध में भाग लिया है। पहली बार वायु सेना ने 1948 में, फिर 1965 में और 1971 और 1999 में युद्ध में भाग लिया। इसके अलावा, वायु सेना ने 1962 में चीन को अपनी ताकत दिखाई है।

वायु सेना प्रमुख की एक महत्वपूर्ण जिम्मेदारी होती है

भारतीय वायु सेना के मुख्य अधिकारी को वायु सेना प्रमुख कहा जाता है और इसका पद चीफ एयर मार्शल का होता है। वायु सेना का मुख्यालय दिल्ली में स्थित है। वायु सेना प्रमुख को एयर मार्शल और वाइस एयर मार्शल, या एयर कमोडोर के रैंक के चार मुख्य स्टाफ अधिकारियों द्वारा सहायता प्रदान की जाती है। वे वायु सेना की प्रमुख शाखाओं को नियंत्रित करते हैं।

कैसे आवेदन कर सकते हैं

भारतीय वायु सेना में शामिल होने के लिए लाखों युवा आवेदन भेजते हैं, लेकिन ऐसे कुछ ही लोग होते हैं। भारतीय वायु सेना में किसे जगह मिलती है? हालांकि, भारतीय वायु सेना में करियर बनाने के लिए बहुत अधिक योग्यता की आवश्यकता नहीं होती है। एक व्यक्ति जो IAF के मानदंडों को पूरा करने में सक्षम है, भर्ती के लिए आवेदन कर सकता है।

एनडीए परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी

आपको बता दें कि अगर आप भी 12वीं के बाद भारतीय वायुसेना में शामिल होना चाहते हैं तो एनडीए की परीक्षा पास करने के बाद आप भारतीय वायुसेना में शामिल हो सकते हैं। भारतीय वायु सेना की वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के अनुसार वायु सेना के लिए केवल 17.5 से 19.5 वर्ष की आयु के उम्मीदवार ही आवेदन कर सकते हैं।

You can aslo read

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *