मैथ्स प्रैक्टिस टिप्स: इस फॉर्मूले से गणित बनेगा पसंदीदा विषय, मानसिक-शारीरिक विकास के लिए है जरूरी

Share this Post

मैथ्स प्रैक्टिस टिप्स: इस फॉर्मूले से गणित बनेगा पसंदीदा विषय, मानसिक-शारीरिक विकास के लिए है जरूरी-बेसिक मैथ्स टिप्स: ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा किए गए शोध के अनुसार, गणित से दूरी बनाए रखने वाले छात्रों का मानसिक और शारीरिक विकास प्रभावित होता है। यहां कुछ ऐसे टिप्स दिए गए हैं, जो गणित को आसान बना सकते हैं।

मैथ्स प्रैक्टिस टिप्स: इस फॉर्मूले से गणित बनेगा पसंदीदा विषय, मानसिक-शारीरिक विकास के लिए है जरूरी
IMAGE CREDIT-https://www.timesnowhindi.com

मैथ्स प्रैक्टिस टिप्स: इस फॉर्मूले से गणित बनेगा पसंदीदा विषय, मानसिक-शारीरिक विकास के लिए है जरूरी

मुख्य बातें

  • गणित से होता है मानसिक और शारीरिक विकास
  • गणित में बुनियादी टिप्स बहुत मदद करेंगे
  • गणित के फॉर्मूले याद रखने के लिए जरूरी हैं ये टिप्स

बेसिक मैथ्स टिप्स: ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा हाल ही में किए गए एक शोध से पता चला है कि जो छात्र अपनी किशोरावस्था में गणित पढ़ना बंद कर देते हैं या उससे दूरी बना लेते हैं, उनके मस्तिष्क के एक विशेष हिस्से के विकास पर प्रभाव पड़ता है। ऐसे छात्रों में मस्तिष्क के उस हिस्से में रासायनिक गामा-एमिनोब्यूट्रिक एसिड की कमी पाई गई है जो सोचने की क्षमता के लिए जिम्मेदार है। यह शोध रॉ कोहेन ने 14 से 18 साल के छात्रों पर किया था।

शोधकर्ता रॉ कोहेन के अनुसार, गणित मानसिक के साथ-साथ शारीरिक रूप से भी प्रभावित करता है। किशोर विकास के लिए एक बहुत ही खास उम्र है। इस उम्र में दिमाग के विकास के साथ-साथ सोचने और समझने की क्षमता भी विकसित होती है। शोध के साथ-साथ शोधकर्ता रौ कोहेन ने कुछ ऐसे सुझाव भी दिए हैं, जिनकी मदद से छात्र गणित में अपनी रुचि विकसित कर सकते हैं।

ALSO READ-10वीं बोर्ड (सीबीएसई और राज्य) सामाजिक विज्ञान परीक्षा अध्ययन की युक्तियाँ

गणित को समझें

गणित को लेकर छात्रों के मन में अक्सर ऐसा डर पैदा हो जाता है कि जिन छात्रों की रुचि गणित पढ़ने में होगी, उन्हें भी सुनी-सुनाई बातों से डर लगने लगता है और वे इससे सहमत हो जाते हैं. वह इस बात में विश्वास करने लगते हैं कि गणित सबसे कठिन विषय है जिसे पढ़ने के लिए बहुत तेज दिमाग की जरूरत होती है। हालाँकि, यदि आप गणित को समझते हैं तो यह बहुत आसान हो जाता है।

स्टेप बाय स्टेप पढ़ें

गणित एक ऐसा विषय है जिसे अचानक से किसी भी अध्याय में शामिल नहीं किया जा सकता है। ऐसा करने में यह विषय आसानी से समझ में नहीं आता है। गणित पढ़ने की पूरी प्रक्रिया का पालन करना होता है। जो एक कदम से दुसरे कदम बढाती चली जाती है. यदि इस प्रक्रिया को नहीं अपनाया गया तो गणित कठिन हो जाता है।

प्रतिदिन अभ्यास करें

गणित एक ऐसा विषय है जो प्रतिदिन अभ्यास से बहुत आसान हो जाता है अतः अपने टाइम टेबल में गणित के लिए प्रतिदिन समय और अभ्यास सुनिश्चित करें। यदि किसी सवाल पर आप अटक जाते हैं तो उस समय उस पर ज्यादा माथापच्ची न करें। अगले दिन फिरसे उस सवाल को हल करने का प्रयास करें।

ALSO READएनआईआरएफ रैंकिंग 2022: आईआईटी-मद्रास लगातार चौथे वर्ष भारत में सर्वश्रेष्ठ संस्थान

निष्कर्ष

यह बात हम सब जानते हैं कि अभ्यास से ऐसी प्रत्येक कठिनाई से पार पाया जा सकता है जिसे हम असम्भव समझते हैं। तो आप भी गणिंत का नियमित अभ्यास करें और अपने मस्तिष्क को धारदार बनाएं।

VISITE OUR ENGLISH WEBSITEONLINE HISTORY AND GK

Share this Post

Leave a Comment

Discover more from History in Hindi

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading