कुछ इतिहास प्रसिद्ध लोगों के बारे में रोचक तथ्य

Share this Post

इतिहास से जुड़े कुछ प्रसिद्ध व्यक्तियों के विषय  रोचक तथ्य  हैं जो नए इतिहास और तथ्यों का निर्माण करते  हैं जो दुनिया को एक अवसर प्रदान करते हैं  और आधुनिक विश्व में अपने लिए एक अलग मुकाम हासिल करते हैं।

सर आइजैक न्यूटन

महान भौतिक विज्ञानी सर आइजैक न्यूटन के बारे में ऐसे तथ्य जिन्हें आप अवश्य जानना चाहेंगे।  जिनकी खोज आधुनिक विज्ञान में इतनी महत्वपूर्ण थी कि वे सदी की प्रसिद्ध हस्तियों में से एक थे और विश्व को एक वैज्ञानिक दिशा प्रदान की। 

  

तथ्य 1

अपने पिता की मृत्यु  आइजैक न्यूटन  सिर्फ 3 महीने के थे। उनसके पिता एक किसान थे जिनकी मृत्यु 1642 ईस्वी में हुयी।  पिता की मृत्यु के बाद न्यूटन की माँ ने बरनबास स्मिथ के पिता की व्यक्ति से शादी की।

तथ्य 2

अपने जन्म के समय न्यूटन इतना कमजोर पैदा हुआ कि लोगों ने कहा कि वह बच नहीं पायेगा।  माँ  वह इतना छोटा था कि उसे प्याले में रखा जा सकता था।

तथ्य 3

न्यूटन 1665 के बुबोनिक प्लेग में  के समय अपने काम वैज्ञानिक खोजों में इतना सक्रिय था कि उसने कई नई खोजों से विश्व को  परिचित कार्य जिनमें मुख्य रूप से  प्रसिद्ध गुरुत्वाकर्षण का सिद्धांत, प्रकाशिकी के नियम हैं, और उन्होंने कैलकुलस का आविष्कार किया। जिसके बाद न्यूटन विश्व में प्रसिद्धि प्राप्त करते गए।

तथ्य 4

न्यूटन  अपने काम में इतने व्यस्त थे कि उन्होंने कभी अपने व्यक्तिगत जीवन के विषय नहीं सोचा। अपनी जीवन की व्यस्तता के कारण उन्होंने शादी नहीं की।

तथ्य 5

यह एक महत्वपूर्ण तथ्य है कि प्रसिद्ध वैज्ञानिक गैलीलियो की मृत्यु उसी वर्ष हुई, जिस वर्ष सर आइजैक न्यूटन का जन्म हुआ था।

गैलीलियो गैलीली     

गैलीलियो गैलीली के बारे में तथ्य एक बार अल्बर्ट गैलिलियों के अविष्कारों को आइंस्टीन ने कहा था कि उनके अविष्कार खगोल विज्ञानं और  भौतिकी की वास्तविक शुरुआत का प्रतीक है। यह गैलीलियो ही थे जिन्होंने सर्वप्रथम  रात्रि  के आकाश में एक दूरबीन की सहायता से बह्माण्ड को देखा, और उनकी खोजों ने ब्रह्मांड की हमारी सोच और समझ को पूरी तरह से परिवर्तित कर दिया ।

 

गैलीलियो गैलीली   

तथ्य 1

गैलिलियों एक प्रसिद्ध गणितज्ञ, खगोलशास्त्री औरदार्शनिक के रूप में प्रसिद्ध हैं। उन्होंने अपने खगोल वौज्ञानिक खोज के माध्यम से ऐसे चार चन्द्रमाँ खोजे जो बृहस्पति ग्रह के चरों ओर चक्कर लगाते हैं। इसके अतिरिक्त उन्होंने यह भी खोज कि की जितने तारे हम नग्न आँखों से देखते हैं दूररबीन से देखने पर उनकी संख्या बहुत अधिक है।

तथ्य 2
यह एक महत्वपूर्ण तथ्य है कि गैलिलियों ने जीवनभर शादी नहीं कि मगर उनकी दो बेटियां और एक बेटा सेलेस्टा था। उनकी एक बेटी ने नन के रूप में चर्च में काम किया।

तथ्य 3

वास्तव में गैलीलियो  ने दूरबीन का आविष्कार नहीं किया था, सत्य यह है कि हंस लिपरही नामक एक डच फिल्म  निर्माता ने दूरबीन का आविष्कार किया था, लेकिन दूरबीनों और सूक्ष्मदर्शी में सुधार करने के लिए गैलिलियो ने अनेक प्रयास किये और दूरबीन की देखने की क्षमता को बढ़ा दिया।

तथ्य 4

गैलीलियो गैलीली एक चिकित्सक बनना चाहते थे और जब वे 16 वर्ष के थे तब उन्होंने  चिकित्सा का अध्ययन करने के लिए पीसा विश्वविद्यालय में दाखिला लिया लेकिन अपनी रुचि के विपरीत होने के कारण उन्होंने अध्ययन बीच में ही छोड़ दिया और एक खगोल वैज्ञानिक के रूप में काम किया।
तथ्य 5

गैलीलियो गैलीली एक महान चित्रकार भी थे, उन्होंने अपनी ब्रह्माण्ड खोजों के अतिरिक्त आधा समय ड्राइंग  और पेंटिंग कौशल के लिए बिताया, जिसमें निस्संदेह उन्हें अपने टेलीस्कोप द्वारा खोजे गए  स्थलों की व्याख्या करने में बहुत सहायता  मिली।

लियोनार्डो दा विंची

लियोनार्डो दा विंची के बारे कौन नहीं जनता।  वे अपने समय के महान  चित्रकार  और मूर्तिकार थे। 1452 ईस्वी को जन्में लियोनार्डो को उनकी विश्व प्रसिद्ध पेंटिंग मोनालिसा के रूप में याद किया जाता है। 

लियोनार्डो दा विंची

तथ्य 1

एक रोचक तथ्य जो लियोनार्डो दा विंची से जुड़ा है वो यह है कि वे एक बाएं हाथ के खिलाड़ी थे, वे अपने दाहिने हाथ से लेखन और पेंटिंग में समान रूप से सिद्धहस्त थे।

तथ्य 2

लियोनार्डो दा विंची भी जीवनभर कुंवारे रहे यानि वह भी अविवाहित थे।

तथ्य 3

    उनकी सबसे महान कृतियों में मोना लिसा अब तक की सबसे प्रसिद्ध पेंटिंग थी, वह किसी भी कलाकार द्वारा एक महान कृति थी। मोना लिसा के चित्र को ध्यान  से देखिये उनमें उनकी भौहें नहीं हैं।  इसके बाबजूद उनकी यह कृति अपने आप में विशिष्ट है और उसकी मुश्कान बहुत रहस्यमय है

तथ्य 4

लियोनार्डो के विचारों और सिद्धांतों से जुडी ,कोडेक्स लीसेस्टर’ अब तक की सबसे महंगी बिकने वाली पुस्तक है। यह पुस्तक पांडुलिपि के रूप में है ,  जिसमें लियोनार्डो के विचार, सिद्धांत के अतिरिक्त  दुनिया से जुड़े महत्वपूर्ण अवलोकन भी शामिल हैं, जैसे जल की गति, जीवाश्म और चंद्रमा की चमक।

तथ्य 5

लेओनार्डो से जुडी एक अन्य महत्वपूर्ण जानकारी उनके द्वारा है जिसमें उन्होंने एक ऐसी लेखन कला  का विकास किया जिसे दर्पण लेखन कहा जाता है। लियोनार्डो दा विंची को अपने सिद्धांत को छिपाने और दुनिया के लिए गुप्त रखने के दर्पण लेखन का इस्तेमाल किया गया था। दर्पण लेखन जहां शब्द या वाक्य विपरीत दिशा में होते हैं, ताकि दर्पण में देखने पर वे सामान्य दिखें।


Share this Post

Leave a Comment

Discover more from History in Hindi

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading