कुटीर उद्योग - 𝓗𝓲𝓼𝓽𝓸𝓻𝔂 𝓘𝓷 𝓗𝓲𝓷𝓭𝓲

भारत में कुटीर उद्योग: अर्थ और कुटीर उद्योग की समस्याएं

कुटीर उद्योग एक छोटे स्तर पर उत्पादन या उद्यम का मतलब होता है जो घरेलू स्तर पर चलाया जाता है। इसमें छोटे उद्योग, हस्तशिल्प, खाद्य प्रसंस्करण, आधुनिकीकरण, फूल विविधता, समुद्री खाद्य उत्पादन, फल प्रसंस्करण, टूरिज्म, विविध उत्पादन या ग्रामोद्योग आदि शामिल होते हैं। भारत में कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने कई … Read more